मासूम के अपहरण की आरोपी महिला पति सहित गिरफ्तार

मासूम के अपहरण की आरोपी महिला पति सहित गिरफ्तार

मासूम के अपहरण की आरोपी महिला पति सहित गिरफ्तार
मासूम के अपहरण की आरोपी महिला पति सहित गिरफ्तार

रुद्रपुर : किच्छा में तीन माह के बच्चे को लेकर फरार हुई महिला को ऊधम सिंह नगर पुलिस ने महज 24 घंटे में गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने महिला को यूपी के बुलंदशहर से गिरफ्तार किया है।

इसके साथ ही अपहरण किए गए बच्चे को भी पुलिस ने सकुशल बरामद कर लिया है। अपहरण के आरोप में पुलिस ने महिला के पति को भी गिरफ्तार कर लिया है।यह दोनों बच्चे को लेकर कोलकाता में बेचने की ताक में थे।

बृहस्पतिवार को पुलिस कार्यालय में इस मामले का खुलासा करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ मंजूनाथ टीसी ने बताया कि मंगलवार दोपहर सतुईया थाना पुलभट्टा निवासी प्रेमचंद के भाई उमेश के साथ रहने वाली महिला ज्योति उर्फ नैना अपहरण कर ले गयी थी।इस मामले में पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर महिला की खोजबीन शुरू कर दी थी।

पुलिस जांच के दौरान पता चला कि अपहरण करने वाली महिला ने क्षेत्र में कई लोगों से शादी की है और वह किच्छा के होटल में काम करने वाले सूरज के साथ शादी कर पिछले तीन साल से अनूपशहर बुलंदशहर उत्तर प्रदेश में रह रही थी।

पुलिस ने सूरज की लोकेशन का पता लगाने के बाद टीम को बुलंदशहर भेजा। टीम ने प्रतीक को अनूपशहर से सकुशल बरामद कर ज्योति उर्फ नैना व उसके पति सूरज निवासी राजू नगला बहेड़ी जनपद बरेली उत्तर प्रदेश हाल निवासी वार्ड नंबर 09 अनूपशहर उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार कर लिया।

इस दौरान पुलिस टीम में पुलिस क्षेत्राधिकारी ओमप्रकाश शर्मा,एस ओ पुलभट्टा विघादत्त जोशी, एस आई दिनेश चंद्र भट्ट, सिपाही ललित कुमार, धर्मवीर सिंह, गोविंद चंद्र, महिला सिपाही हेमा मेहता,एस ओ जी सिपाही भूपेंद्र शामिल हैं।

पुलिस ज्योति उर्फ नैना के अंतराष्ट्रीय बच्चा चोर गिरोह के संपर्क में होने की जांच में जुट गई है। पुलिस को उसके तार गिरोह से जुड़े होने की शंका है। जिसके चलते पुलिस नैना के साथ सूरज से भी गंभीरता से पूछताछ करने में जुटी है। वही यह बात भी सामने आई है कि अनूपशहर से नैना को लेने सूरज बिलासपुर आया था।

पुलिस के मुताबिक ज्योति ने प्रतीक को खिलौने के बहाने अपहरण कर ले गयी थी, और पहले सूरज के साथ वीडियो काल फर पर बातचीत की गई। वीडियो काल पर बच्चे को सूरज को दिखाने के बाद ई रिक्शा से किच्छा पहुंच गई और वहां से रुद्रपुर होते हुए ज्योति मैक्स वाहन से बिलासपुर पहुंची। जहां पर सूरज उसका इंतज़ार कर रहा था।

जिसके बाद दोनों अनूपशहर के लिए निकल गये। पुलिस दोनों आरोपियों से गहनता से पूछताछ कर रही है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ मंजूनाथ टीसी ने बताया कि आरोपी महिला मूल रूप से बंग्लादेश की रहने वाली है।

पुलिस के मुताबिक ज्योति मूल रूप से बंग्लादेश की निवासी हैं।वह बंग्लादेश से अपने मामा के पास ग्राम पानीखली मजदिया थाना धतला जनपद नादिया पश्चिम बंगाल आकर रहने लगी थी।

उसने अपनी पहली शादी बिहार निवासी चेतू नाम के व्यक्ति से की थी। उसके बाद उसने किच्छा, बहेड़ी सहित अन्य क्षेत्रों में कई लोगों से शादी की। पिछले तीन साल से वह सूरज के साथ अनूपशहर में ही रह रही थी।

ब्यूरो चीफ : एम सलीम खान की रिपोर्ट