पूर्व ग्राम प्रधान ने फार्मासिस्ट पर लगाए सरकारी नाला कब्जाने समेत कईं अन्य गम्भीर आरोप स्वास्थ्य निदेशक समेत अन्य अधिकारियों को शिकायती पत्र भेज की कार्येवाही की मांग

पूर्व ग्राम प्रधान ने फार्मासिस्ट पर लगाए सरकारी नाला कब्जाने समेत कईं अन्य गम्भीर आरोप स्वास्थ्य निदेशक समेत अन्य अधिकारियों को शिकायती पत्र भेज की कार्येवाही की मांग

विकास खण्ड मुज़फ़्फ़राबाद के एक गांव के पूर्व प्रधान ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फतेहपुर में कार्यरत फार्मासिस्ट नवनीत पर गांव का नाला अवरुद्ध करने समेत कईं अन्य गम्भीर आरोप लगाते हुए स्वास्थ्य एंवम परिवार कल्याण विभाग के सचिव, निदेशक व जिलाधिकारी को शिकायती पत्र भेजकर उसका हस्तानांतरण कराने व कब्जाए गए नाले को पूर्व की भांति खुलवाने की मांग की है।

शनिवार को नगर पंचायत के फतेहपुर भादो के पूर्व प्रधान बुच्चा सैनी ने उत्तर प्रदेश स्वास्थ्य एवंम परिवार कल्याण विभाग के सचिव, निदेशक व सहारनपुर जिलाधिकारी को शिकायती पत्र भेजकर आरोप लगाए की क्षेत्र के ही ग्राम मंडुवाला निवासी नवनीत जो पिछले 10 वर्षों से सामुदायिक केंद्र फतेहपुर में तैनात है।

अपने पूरे परिवार जिनमें उसके भाई बहन समेत अन्य सदस्य हैं को सरकारी आवास में रखता है जो विभाग के नियमों के विरुद्ध है उसने आरोप लगाया कि उक्त व्यक्ति स्वंम के सरकारी विभाग में तैनात होने का नाजायज़ लाभ उठाकर अस्पताल में आने वाले गरीब मरीजों को महंगी दवाईयां अपने मेडिकल स्टोर से लाने को बाध्य करता है इतना ही नही वह अपने सरकारी कर्मचारी होने की आड़ में अवैध रूप से ज़मीन कब्जाने का गोरखधन्धा भी करता है।

जिस कड़ी में उसने ग्राम फतेहपुर का नाला भी पूरी तरह से अवरुद्ध कर उस पर ग़लत तरीके से अपना रास्ता बना लिया है जिससे गांव का पानी न निकलने से घरों के सामने गलियों में भर रहा है जिससे ग्रामीणों को भारी परेशानी तो

उठानी पड़ ही रही है साथ ही कईं घरों में पानी भरने के कारण तरड़ भी आ चुकी है। शिकायती पत्र में आरोप लगाया गया कि उक्त व्यक्ति से जब ऐसा न करने का ग्रामीणों द्वारा आग्रह किया जाता है तो वह उन्हें अपनी ऊंची पहुंच होने व ग़लत मुकदमों में फंसाने का डर दिखाकर उन्हें चुप करा देता है।

पूर्व प्रधान द्वारा लगाए गए आरोपों के मुताबिक उक्त फार्मेसिस्ट विभागीय नियमों के विरुद्ध पिछले 10 वर्षों से एक ही स्थान पर जमा हुआ है और कहता है

कि वह अधिकारियों को हर तरह से खुश रखता है इसलिए कोई उसका ट्रांसफर नहीं करा सकता। पूर्व प्रधान ने आरोपित फार्मेसिस्ट के खिलाफ शासकीय कार्येवाही करने के साथ ही उसका तबादला दूसरे मंडल में करने की मांग की है।

रिपोर्ट : सोनु राणा