मसूरी में छात्रों ने किया अग्निपथ योजना का विरोध, केन्द्र के पुतले को किया आग के हवाले

मसूरी में छात्रों ने किया अग्निपथ योजना का विरोध, केन्द्र के पुतले को किया आग के हवाले

उत्तराखंड में केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना का विरोध लगातार बढ़ता ही जा रहा है। शनिवार को मसूरी एमपीजी कालेज छात्रसंध अध्यक्ष प्रिंस पंवार के नेतृत्व में बड़ी संख्या मे ं युवाओं मसूरी के पिक्चर पैलेस चौक पर

एकत्रित हुए और केन्द्र सरकार द्वारा जारी अग्निपथ परियोजना का जमकर विरोध कर केन्द्र सरकार के पुतले को आग के हवाले कर जमकर नारे लगाये। उन्होने कहा कि अगर मोदी सरकार अग्निपथ योजना को वापस नहीं लेती है। तो इसको लेकर उग्र आंदोलन होगा। जिसके लिए मोदी सरकार जिम्मेदार होगी।

प्रिसं पवार ने कहा कि मोदी सरकार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है. मोदी सरकार ने देश की सबसे प्रतिष्ठित नौकरियों को अनुबंधों में बदल दिया है। जिसे देश के युवा किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं करेंगे।

प्रिंस पवार ने कहा कि देश में लाखों युवा वर्षों से सैन्य भर्ती की तैयारी कर रहे हैं। लेकिन अब मोदी सरकार 4 साल की नौकरी हटाकर हमारे सपनों से खेल रही है. जिसको बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।

केंद्र सरकार ने 14 जून को सेना की तीन शाखाओं (सेना, नौसेना और वायु सेना) में बड़ी संख्या में युवाओं की भर्ती के लिए अग्निपथ भर्ती योजना शुरू की थी।

हालांकि, जैसे ही योजना की घोषणा हुई, पूरे देष सहित उत्तराखंड में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए। इसके बाद केंद्र सरकार ने भी इस योजना में संशोधन किया। हालांकि युवाओं की मांग है कि इस पूरी योजना को पहले की तरह पूरा कर भर्तियों का आयोजन किया जाये।

रिपोर्टर : सुनील सोनकर, मसूरी