श्रीलंका में हिंसा करने वालों को गोली मारने का आदेश

श्रीलंका में हिंसा करने वालों को गोली मारने का आदेश

श्रीलंका में हिंसा करने वालों को गोली मारने का आदेश
श्री लंका में हिंसा करने वालों को गोली मारने का आदेश

कोलबो : श्रीलंका में हिंसा करने वालों लोगों को रक्षा मंत्रालय ने गोली मारने के आदेश दिए हैं। श्रीलंका सुरक्षा बलों को उन सभी लोगों को गोली मारने का आदेश दिया है

जो सार्वजनिक संपत्ति को लूट रहे हैं। इसके अलावा व्यक्तिगत नुकसान पहुंचा रहे हैं उन्हें भी गोली मारने का आदेश दिया। स्थानीय मीडिया ने मंगलवार को बताया कि पूरे राष्ट्र में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन जारी है।

श्रीलंका सरकार के खिलाफ देशव्यापी विरोध प्रदर्शन पिछले कुछ दिनों से तेज हो गया है। जिसके परिणामस्वरूप विरोध स्थानों पर तैनात सुरक्षा बलों के साथ झड़पों की घटनाओं में इजाफा हुआ है।

सेना के प्रवक्ता ने बताया कि रक्षा मंत्रालय ने तीनों बलो को सार्वजनिक संपत्ति लूटने वाले किसी भी व्यक्ति पर गोलियां चलाने का आदेश दिया है। देश विरोधियों की पहचान की जा रही है।उन लोगों की भी पहचान की जा रही है जिन्होंने सांसद मंत्रियों के घरों को आग के हवाले कर दिया है।

सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों ने श्रीलंका के मोरातुवा मेयर समन लाल फर्नांडो और सांसद सरथ निशांत, रमेश पथिराना, महिपाल हेराथ,थिसा कुट्टियाराची और सिमल लाजा के अधिकारिक आवासों को भी आग के हवाले कर दिया।

बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारियों सड़कों पर उतर आए और श्रीलंका के पोदुजिना पेरामुना के सांसदों पर हमला बोला दिया।

डेली मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक यहां तक कि श्रीलंका पोदुजाना पेरामुना के कुछ कारयलयो को भी आग लगा दी गई।

श्री लंका के पूर्व प्रधानमंत्री महिदा राजपक्ष और उनके परिवार के कुछ सदस्यों को हिंसक विरोध के बाद इस्तीफा देने के एक दिन बाद त्रिंकोमाली अड्डे में स्थानांतरित कर दिया गया है।

ब्यूरो चीफ : एम सलीम खान की रिपोर्ट