मसूरी पुलिस ने लोगों को साइबर क्राइम के बारे में किया जागरूक

मसूरी पुलिस ने लोगों को साइबर क्राइम के बारे में किया जागरूक

साइबर अपराध पुलिस के लिए चुनौती साबित हो रहा है। आए दिन जालसाज अलग-अलग तरीका अपना कर लोगों को शिकार बना रहे हैं। इन्हें पकड़ पाना चुनौतीपूर्ण होता है। इससे बचाव का उपाय मात्र जागरूक होना है।

इसी उद्देश्य से बुधवार को मसूरी पुलिस ने अभियान चलाकर लोगों को जागरूक किया। मसूरी कोतवाल दिगपाल सिंह कोहली ने कोतवाली परिसर में लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि किसी भी बैंक से खाता धारक के पास फोन नहीं आता है। 

अगरकोई अनजान व्यक्ति फोन कर अपने मोबाइल पर ओटीपी, आधार कार्ड नंबर आदि मांगें तो इसकी जानकारी बिल्कुल न दें, नहीं तो आप ठगी के शिकार हो सकते हैं। कहा कि यदि आपके मोबाइल फोन पर काल या वाट्सएप मैसेज पर लक्की ड्रा चुने जाने की सूचना आए तो उस चक्कर में न पड़े। एटीएम प्रयोग करते समय भी सावधानी बरतें। अपना कार्ड किसी अन्य व्यक्ति को न दें।

मसूरी कोतवाल दिगपाल सिंह कोहली ने कहा कि अपराध की श्रेणी में बड़े पैमाने पर पूरे विश्व में दहशत फैलाने वाले साइबर अपराध को लेकर पुलिस व प्रशासन पूरी तरह अलर्ट पर है।

क्षेत्र में तेजी से पैर पसार रहे साइबर अपराध को लेकर पुलिस विभाग तथा आईटी सेल के द्वारा लगातार लोगों को जागरूक करते हुए सुरक्षा के बारे में जानकारी दी जा रही है, जिससे साइबर क्राइम के बारे में लोगों को जागरूक किया जा सके और साइबर अपराधों से लोगों की सुरक्षा की जा सके।

साइबरअपराध से लोगों की सुरक्षा व सहायता को लेकर शासन के निर्देश पर पुलिस विभाग के द्वारा जागरूकता अभियान का आयोजन किया गया है।

उन्होने साइबर क्राइम के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि साइबर क्राइम जिसे कंप्यूटर अपराध कहते हैं, एक ऐसा अपराध होता है जो प्रत्यक्ष ना होकर अप्रत्यक्ष होता है। लेकिन इस अपराध से लोगों को भारी आर्थिक हानि का सामना करना पड़ता है। 

कंप्यूटरतथा इंटरनेट के माध्यम से किए जाने वाले साइबर अपराध शहरों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को भी अपनी चपेट में ले रहा है। मोबाइल और इंटरनेट की बढ़ती उपयोगिता साइबर अपराध के विस्तार में अहम योगदान दे रहा है।

साइबर क्राइम के द्वारा वर्तमान में आए दिन लोगों के बैंक खाते से बड़े स्तर पर फ्रॉड करके पैसों की चोरी की जा रही है, जिसको लेकर पुलिस के पास शिकायतों की संख्या बढ़ती जा रही है.

रिपोर्टर : सुनील सोनकर