नगरायुक्त ग़ज़ल भारद्वाज ने पहले दिन स्मार्ट सिटी पर किया फोकस

नगरायुक्त ग़ज़ल भारद्वाज ने पहले दिन स्मार्ट सिटी पर किया फोकस

सहारनपुर : नवनियुक्त नगरायुक्त गजल भारद्वाज ने अपने कार्य दिवस के पहले दिन निगम पहुंचते ही स्मार्ट सिटी अधिकारियों के साथ बैठक की और स्मार्ट सिटी परियोजनाओं के सम्बंध में जानकारी ली। बाद में उन्होंने आईसीसीसी( इंटेग्रेटिड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर) के दोनों तलों का निरीक्षण किया और आवश्यक दिशा निर्देश दिए। 

नगरायुक्त गजल भारद्वाज प्रातः सात बजे नगर निगम पहुंची और सचिव नगर विकास व निदेशक रंजन कुमार के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग में संचारी रोग, वृक्षारोपण और नालों की साफ-सफाई के सम्बंध में चर्चा की।

उसके बाद सवा नौ बजे स्मार्ट सिटी अधिकारियों के साथ बैठक की। नगरायुक्त ने स्मार्ट सिटी के प्रोजेक्ट की सख्या, कितने पूरे हो चुके हैं, उनके शुरु होने का समय आदि की जानकारी के साथ ही रैंकिंग में सहारनपुर स्मार्ट सिटी के पिछड़ने के कारणों की जानकारी ली।

स्मार्ट सिटी के नोडल अधिकारी कैलाश सिंह व अधिशासी अभियंता अमरेन्द्र गौतम ने नगरायुक्त को बताया कि स्मार्ट सिटी की 43 परियोजनाओं में से 6 परियोजनाओं पर कार्य पूरा हो चुका है तथा 24 पर कार्य चल रहा है।

इंटेग्रेटिड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (आईटीएमएस) दो चरणों में 17 स्थानों पर लगाए जाने है जिनमें से प्रथम चरण में 7 स्थानों पर लग चुके है।

इसी तरह दो चरणों में 22 पब्लिक एड्रेस सिस्टम लगाये जाने है, जिनमें से पांच स्थानों पर लगाये जा चुके है। नगरायुक्त को बताया गया कि पूरे महानगर में 298 स्थानांे पर 860 सर्विलांस कैमरे लगाये जाने है जिनमें से 215 कैमरे लगाये जा चुके है और 90 कैमरों से लाइव आईसीसीसी को मिल रहा है।

नगरायुक्त द्वारा सहारनपुर स्मार्ट सिटी के रैंकिंग में पिछड़ने का कारण पूछने पर अमरेन्द्र गौतम ने बताया कि परियोजनाओं के विलंब से शुरु होने और चयन में विलंब तथा फिजीकल फाइनेंशियल प्रोग्रेस न होने के कारण रैंकिंग नीचे रही है।

उन्होंने बताया कि प्रोजेक्ट मॉनेटरिंग कमेटी नहीं है लेकिन आईसीसीसी, एलईडी और ई-लाइब्रेरी के लिए थर्ड पार्टी जांच हेतु आई आई टी रुड़की पीएमसी के रुप में कार्य कर रही है।

नगरायुक्त ने गत तीन माह की प्रगति रिपोर्ट देने के भी निर्देश दिए। बैठक में उक्त के अतिरिक्त अपर नगरायुक्त राजेश यादव, सहायक नगरायुक्त अशोक प्रिय गौतम, स्मार्ट सिटी कंपनी सचिव शंकर तायल, आईटी अधिकारी मोहित तलवार आदि मौजूद रहे।

इसके बाद नगरायुक्त ने आईसीसीसी के दोनों तलों का निरीक्षण किया। इस दौरान आईसीसीसी के परियोजना प्रबंधक विवेक जोशी ने सर्विलांस कैमरों, पब्लिक एडेªस सिस्टम आदि के बारे में विस्तार से बताया।

नगरायुक्त ने तालाबों, पार्को, मकानों, डिवाईडरों, स्कूल, कॉलेजों और हॉस्पिटलों की जियो टैंगिंग करने के भी निर्देश दिए और दो दिन बाद उसका डैमो दिखाने को कहा।