मेडिसिटी अस्पताल एक बार फिर सुर्खियों में इलाज में लापरवाही के कारण युवक की हुई मौत

मेडिसिटी अस्पताल एक बार फिर सुर्खियों में इलाज में लापरवाही के कारण युवक की हुई मौत

मेडिसिटी अस्पताल एक बार फिर सुर्खियों में इलाज में लापरवाही के कारण युवक की हुई मौत
मेडिसिटी अस्पताल एक बार फिर सुर्खियों में इलाज में लापरवाही के कारण युवक की हुई मौत

रुद्रपुर : वार्ड नंबर 6 थाना गदरपुर जिला उधम सिंह नगर निवासी विकास कुमार उर्फ विक्की पुत्र लखपत राय के भाई सुरेश भुसरी की दि मेडिसिटी हॉस्पिटल मे इलाज में लापरवाही बरतने के कारण अचानक मृत्यु हो गई थी। इसको लेकर विकास कुमार ने कोतवाली रुद्रपुर में तहरीर दी है।

बता दें कि आज सुबह विकास कुमार के भाई सुरेश के सीने में दर्द उठा जिसे लगभग 8:15 बजे द मेडिसिटी हॉस्पिटल किच्छा रोड रूद्रपुर में उपचार हेतु लाया गया

जहां मौके पर मौजूद डॉक्टर रिजवान के द्वारा सुरेश का चेक अप करने के बाद उसको हृदयाघात की शिकायत बताई। इस दौरान विकास कुमार द्वारा डॉ रिजवान से पूछा गया कि आपके हॉस्पिटल में हृदयाघात का इलाज होता है कि नहीं।

इस बात को लेकर डॉ रिजवान ने दि मेडिसिटी हॉस्पिटल के प्रबंधक डॉ दीपक छाबड़ा से बात की और डॉक्टर दीपक छाबड़ा कहने पर डॉ रिजवान तथा कर्मचारी बृजेश वह गौतम अतेंद्र द्वारा उसके भाई सुरेश के इंजेक्शन लगा दिए गए।

विकास कुमार और उनके साथ आए लोगों ने इंजेक्शन लगाने के लिए बार बार मना किया था। परिजनों एवं उनके साथ आए लोगों के बार-बार मना करने पर भी सुरेश कुमार के इंजेक्शन लगा दिए गए। इंजेक्शन लगते ही कुछ मिनटों के दौरान विकास कुमार के भाई सुरेश भुसरी की मृत्यु हो गई।

इस दौरान विकास कुमार द्वारा डॉ रिजवान बृजेश तथा गौतम अतेंद्र को बुलाकर सुरेश की मृत्यु की सूचना दी गई। तभी डॉ रिजवान बृजेश तथा गौतम अतेंद्र ने विकास कुमार को धमकी देते हुए कहा कि तुम अपने भाई का सव चुपचाप लेकर यहां से खिसक जाओ अन्यथा तुम्हारा भी यही अंजाम होगा। मौके पर भीड़ एकत्र होते हुए देखकर यह सभी लोग मेडिसिटी हॉस्पिटल से फरार हो गए।

इस घटना को लेकर विकास कुमार ने अपने भाई सुरेश भुसरी की गलत इलाज के कारण हुई मृत्यु को लेकर दी मेडिसिटी हॉस्पिटल के डॉक्टर रिजवान एवं अन्य दोसी लोगों खिलाफ रुद्रपुर कोतवाली में तहरीर दी है। और दोषियों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है।

ब्यूरो चीफ : एम सलीम खान की रिपोर्ट