जिला जज ने किया हिन्दी दिवस कार्यक्रम का उद्घाटन

जिला जज ने किया हिन्दी दिवस कार्यक्रम का उद्घाटन

जिला जज ने किया हिन्दी दिवस कार्यक्रम का उद्घाटन
जिला जज ने किया हिन्दी दिवस कार्यक्रम का उद्घाटन

जहानाबाद : हिन्दी दिवस के अवसर पर आज व्यवहार न्यायालय परिसर में लोक अदालत काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा आयोजित हिन्दी दिवस कार्यक्रम का उद्घाटन जिला एवं सत्र न्यायाधीश डॉ० राकेश कुमार सिंह ने किया। 

 

इस अवसर पर उन्होंने सभी कवियों एवं शायरों को शुभकामना दिया और कहा कि दुनिया में बोले जाने वाले चौथा सबसे ज्यादा बोले जाने वाला भाषा हिन्दी है।

इस अवसर पर मॉ कमला चंद्रिका जी कॉलेजज आँफ समुह के सचिव डॉ० संजय कुमार ने जिला एवं सत्र न्यायाधीश समेत सभी न्यायाधीशों को अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया कार्यक्रम की अध्यक्षता अपर जिला एवं सत्र न्यायधीश सह सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकार अजय कुमार ने किया ।

कार्यक्रम का संचालन सतत् लोक अदालत के सदस्य संतोष श्रीवास्तव ने किया। इस अवसर पर सुश्री शिल्पी सोनी राज प्रधान न्यायाधीश परिवार न्यायालय, अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सतीश कुमार देव अनंदिता सिंह, राकेश कुमार नं01. जावेद अहमद खान, पुष्पम कुमार झा, रश्मि 

प्रभारी मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी राकेश कुमार रजक सब जज अमरजीत कुमार, कुलदीप अनुमंडल न्यायिक दण्डाधिकारी सिम्मी कुजुर, मुंसिफ विभूति भूषण, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी जन्मेजय चौधरी, आलोक कुमार चतुर्वेदी, रिचा कश्यप एवं वैभव कुमार उपस्थित थे। 

इसअवसर पर विधिज्ञ संघ के अध्यक्ष गिरिजानन्दन प्रसाद, लोक अभियोजक सुरेन्द्र प्रसाद सिह चिकित्सक डॉ० गिरिजेश कुमार, राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित डॉ० एस०के० सुनील आदि उपस्थित थे।

लोक अदालत काव्य गोष्ठी में हिन्दी दिवस पर एक स्मारिका का विमोचन जिले के सभी न्यायिक पदाधिकारियों द्वारा किया गया । इस अवसर परा जिला एवं सत्र न्यायाधीश डा राकेश कुमार सिह ने सभी कवि एवं शायर को अंग वस्त्र ,डायरी तथा कलम देकर सम्मानित किया ।

 इस अवसर पर कवि महेन्द्र प्रसाद देहाती, डॉ० प्रो० रविशंकर शर्मा, डॉ० प्रो० उमाशंकर सिंह सुमन, डॉ० प्रो० रमेश शर्मा, मनोज कुमार कमल, चितरंजन चैनपुरा, नीरज कुमार, प्रो० अनिल कुमार, महेश कुमार मधुकर , सावित्री सुमन रूबी कुमारी शिक्षिका, विश्वजीत महाराज, अनिल कुमार फतेहपुरी, सुभाष शर्मा, लोकेश कुमार भूषण, शैलेश कुमार शैल, रितेश सिन्हा अधिवक्ता , सुप्रिया कुमारी ,कुमारी मानसी अस्कामिनी राज ,

नन्दनमिश्रा, मो० लतीफ शम्सी "अंजुम काकवी, डॉ० गुलाम असदक, सुधाकर राजेन्द्र, सावित्री सुमन, मो0 शाहर उज्जैर आलम ,सुभाष शर्मा (युवा कवि ) समेत कई कवियों ने अपने-अपने काव्य पाठ से लोगों को मंत्र मुग्ध कर दिया। कार्यक्रम में पैनल अधिवक्तागण पारा विधिक स्वयं सेवकगण, विधिज्ञ संघ के विद्वान अधिवक्तागण, व्यवहार न्यायालय के कर्मचारीगण एवं प्राधिकार कर्मी उपस्थित थे।