राष्ट्रीय खाघ सुरक्षा योजना के अंतर्गत लाभर्थियों बायोमेट्रिक आधार पर शत प्रतिशत खाघन्न का वितरण

राष्ट्रीय खाघ सुरक्षा योजना के अंतर्गत लाभर्थियों बायोमेट्रिक आधार पर शत प्रतिशत खाघन्न का वितरण

राष्ट्रीय खाघ सुरक्षा योजना के अंतर्गत लाभर्थियों बायोमेट्रिक आधार पर शत प्रतिशत खाघन्न का वितरण
राष्ट्रीय खाघ सुरक्षा योजना के अंतर्गत लाभर्थियों बायोमेट्रिक आधार पर शत प्रतिशत खाघन्न का वितरण

रूद्रपुर : जिला पूर्ति अधिकारी तेज बल सिंह ने बताया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के अन्तर्गत खाद्यान्न का वितरण लाभार्थियों में शत प्रतिशत बायोमैट्रिक माध्यम से ही किया जायेगा।

उन्होने बताया उक्त कार्य की समीक्षा निरन्तर शासन स्तर मण्डल स्तर व जनपद स्तर पर की जा रही है व बायोमैट्रिक माध्यम से खाद्यान्न वितरण किये जाने की समीक्षा करने पर जनपद में तहसील स्तर पर कई विक्रेता चिन्हित किये गये हैं जिनके द्वारा संतोषजनक बायोमेट्रिक ट्रांजैक्शन नहीं किया जा रहा है।

उन्होने बताया इन विक्रेताओं के द्वारा दिनांक 20 जून 2022 तक  बायोमैट्रिक ट्रांजेक्शन के निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष अत्यन्त न्यून बायोमैट्रिक ट्राजेक्शन किया गया है।

उन्होने बताया न्यून बायोमैट्रिक ट्राजेक्शन करने वाले विक्रेता श्रीमती विमला शर्मा, श्रीमती नीलम अरोरा,  रिहान अली, बलविन्दर व  भगवान सिंह बाजपुर के  दीपक कुमार, श्रीमती मन्जू देवी, अमित गांधी,  धर्मेन्द्र कुमार,  महेश चन्द्र, राकेश चन्द्र, श्रीमती फूला देवी , दलजीत सिंह,  अशोक कुमार,

श्रीमती कमला देवी व  पी0के0अग्रवाल काशीपुर के श्रीमती ललिता देवी प्रथम, श्रीमती राधा भण्डारी व  राजेन्द्र बांगा रूद्रपुर से ओमप्रकाश, भूपेन्द्र भारती,  लखपत राय,  दर्शन सिंह,  केवल कृष्ण, श्रीमती आशा रानी, सुभाष चन्द्र, जितेन्द्र कुमार, राजू, किच्छा से शिव प्रसाद सिंह

श्सुभाष सिंह, जसवीर सिंह,  गुरमीत सिंह,  सुरेश सिंह व  गोपाल सिंह,  अम्मू सिंह जसपुर से  राजेश कुमार, क्रय विक्रय सहकारी समिति, श्दिग्विजय,  अरुण सिंह व रामरहेश सिंह सितारगंज से  गौरी शंकर, विजय विकास समिति, दक्षिणी दीर्घाकार सहकारी समिति व उत्तरी दीर्घाकार सहकारी समिति

खटीमा के प्रत्येक विक्रेता पर 3000/- रूपये का आर्थिक दण्ड लगाया गया व इस प्रकार न्यून बायोमैट्रिक ट्रांजेक्शन करने वाले 44 विक्रेताओं पर सम्मिलित रूप से कुल रूपये 132000 का अर्थदण्ड शासन के पक्ष में आरोपित किया गया है।‌

ब्यूरो चीफ : एम सलीम खान की रिपोर्ट