उत्तर भारत सहित मध्य भारत में जल्द बरसेंगे बादल, तेज़ गर्मी से मिलेगी बड़ी राहत

उत्तर भारत सहित मध्य भारत में जल्द बरसेंगे बादल, तेज़ गर्मी से मिलेगी बड़ी राहत

उत्तर भारत सहित मध्य भारत में जल्द बरसेंगे बादल, तेज़ गर्मी से मिलेगी बड़ी राहत
उत्तर भारत सहित मध्य भारत में जल्द बरसेंगे बादल, तेज़ गर्मी से मिलेगी बड़ी राहत

लंबे समय से सूखे मॉसम औऱ तेज़ गर्मी को झेल रहे उत्तर व मध्य भारत मे जल्द ही बादल बारिश लेकर आ रहे हैं। उत्तर व मध्य भारत मे आगामी बारिश का यह दौर 21 मई से 26 मई के बीच अलग अलग स्थानों पर अलग अलग समय पर होगा। 

इस आगामी बारिश के दौर से पहले मैदानी इलाकों में तेज गर्मी बरकरार रहेगी। 

कल से 23 मई के बीच तापमान पूर्वानुमान :

पंजाब: 38℃ से 45℃ 

हरियाणा: 38℃ से 46℃ 

दिल्ली: 38℃ से 45℃ 

पश्चिमी यूपी: 36℃ से 45℃ 

पूर्वांचल: 35℃ से 43℃ 

बुंदेलखंड: 40℃ से 47℃ 

पश्चिमी राजस्थान: 40℃ से 47℃ 

पुर्वी राजस्थान: 38℃ से 46℃

मौसम प्रणालियां :

● मॉनसून की उत्तर आगमन रेखा 5°N/80°E, 8°N/85°E, 12.5°N/90°E औऱ 16.0°N/94.5°E से गुजर रही है।

● अगले 2 दिनों में मॉनसून श्रीलंका औऱ बंगाल की खाड़ी के मध्य व पुर्वी इलाकों में बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल है।

● एक कमजोर प०वी० 20 मई से पहाड़ी इलाकों को प्रभावित करना शुरू करेगा। इस WD के प्रभाव से एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तर राजस्थान व पंजाब के इलाकों पर विकसित होगा।

● एक ट्रफ उत्तर-पश्चिमी राजस्थान से लेकर असम तक बनी हुई है। जो हरियाणा, उत्तरप्रदेश, बिहार व पश्चिम बंगाल पर से गुजर रही है। 

● उत्तर भारत मे अगला WD 23 मई को आएगा। जिसके कारण एक सक्रीय चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तर राजस्थान पर विकसित होगा। 

● नए WD के प्रभाव से एक नई ट्रफ जम्मू, पंजाब, मध्य राजस्थान से लेकर मध्यप्रदेश के पश्चिमी इलाको तक विकसित होगी। 

 20 मई से 22 मई :

जम्मू कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश औऱ उत्तराखंड के ऊंचाई वाले इलाकों में गरज़ चमक औऱ तेज़ हवाओ के साथ कई जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश की गतिविधियां होगी। कुछ जगहों पर भारी बारिश भी संभव है।

वही हिमालय के शिवालिक रेंज वाले इलाको जैसे जम्मू, उधमपुर, कठुआ, कांगड़ा, बिलासपुर, ऊना, सिरमौर, सोलन, देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी गढ़वाल, चंपावत औऱ उधमसिंह नगर जिले में इस दौरान दोपहर बाद से अगले दिन की सुबह के बीच गरज़ औऱ आँधी के साथ बिखरी हुई हल्की से मध्यम बारिश होगी। कुछ जगह तेज़ हवाओं के साथ भारी बारिश भी सम्भव है। 

इन सब मौसमी प्रणालियों के असर उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में भी होगा। 

20 से 22 मई के बीच उत्तर-पुर्वी पंजाब, चंडीगढ़, उत्तर व पुर्वी हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, अवध और पूर्वांचल में दोपहर बाद के घण्टो में बादलो की गरज़ औऱ आँधी के साथ हल्की बारिश होगी। एक-दो जगह तेज़ बौछारे भी गिर सकती है।

वही दक्षिण व पश्चिमी पंजाब, पश्चिमी हरियाणा, दिल्ली, उत्तर व पुर्वी राजस्थान औऱ बुंदेलखंड में मॉसम लगभग साफ औऱ गर्म ही बना रहेगा। हालांकि दिन के समय Heat induced clouds जरूर बनेंगे। जिसके कारण इन इलाकों में दोपहर बाद कुछ एक जगहों पर बादलवाही के बीच हल्की बारिश या बूंदाबांदी की गतिविधियां होगी।

पश्चिमी राजस्थान, दक्षिण राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश में मॉसम इस दौरान बिल्कुल साफ औऱ गर्म रहेगा। दोपहर के समय हल्की बादलवाही देखी जा सकती है। मगर बारिश की संभावना नहीं है। 

23 मई से 26 मई

नए WD व उससे प्रेरित परिसंचरण क्षेत्र के बनने से बारिश की गतिविधियां हिमालय के तराई क्षेत्र से उतरकर पंजाब, हरियाणा, राजस्थान तक फैलने लगेगी।

23, 24 व 25 मई को जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड ऊंचाई वाले इलाकों सहित शिवालिक रेंज के इलाकों में अधिकतर जगहों पर तेज़ हवाओ औऱ बादलो की गड़गड़ाहट के साथ हल्की से मध्यम बारिश होगी। कुछ जगह भारी बारिश भी संभव है।

23 मई व 24 मई को पंजाब, चंडीगढ़, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, अवध, पूर्वांचल, बुंदेलखंड, उत्तर-पुर्वी राजस्थान औऱ पुर्वी राजस्थान में गरज़-चमक औऱ आँधी के साथ हल्की से मध्यम बारिश होगी। कुछ जगह तेज़ हवाओ के साथ भारी बारिश व ओलावृष्टि भी सम्भव है। 

दक्षिण-पश्चिमी राजस्थान व बिल्कुल पश्चिमी राजस्थान (जैसलमेर, जोधपुर, बीकानेर) औऱ गुजरात के इलाकों में 23 व 24 मई को कुछ-एक जगहों पर आँधी के साथ हल्की बारिश की गतिविधियां होगी।

मध्यप्रदेश के लगभग सभी जिलो में 23 से 25 मई के बीच आँधी औऱ गरज़-चमक के साथ बिखरी हुई हल्की से मध्यम बारिश होगी। कुछ जगह तेज़ बारिश भी संभव है।

25 मई के बाद भी मध्यप्रदेश के पुर्वी इलाको में हल्की बारिश या बूंदाबांदी की गतिविधियां जारी रहेगी।

उत्तर भारत मे लगभग इलाको में 25 मई के बाद मॉसम फिर से साफ हो जाएगा। साथ ही दोबारा से तेज़ गर्मी की वापसी होगी।