सेना में नई भर्ती प्रक्रिया के विरोध में युवाओं का कई बार प्रदर्शन का नेतृत्व अंकित शुक्ला कर चुके

सेना में नई भर्ती प्रक्रिया के विरोध में युवाओं का कई बार प्रदर्शन का नेतृत्व अंकित शुक्ला कर चुके

आज जनपद उन्नाव की तहसील सफीपुर में युवाओं ने सेना भर्ती में  किए गए बदलाव को लेकर केंद्र सरकार के विरोध में जोरदार प्रदर्शन किया ।

आर्मी में भर्ती की तैयारी कर रहे युवा महात्मा गांधी इंटर कालेज सफीपुर एकत्र हुए और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और ज्ञापन उपजिलाधिकारी

सफीपुर को सौंपा कई राज्य व जनपद मे प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे सीनियर एनसीसी कमांडर अंकित शुक्ला ने कहा कि सेना कोई रोजगार का साधन नहीं बल्कि अपना जीवन राष्ट्र को समर्पित करना होता है ।

सरकार का यह निर्णय देश  और सेना दोनों  के हित में नहीं है ,इसलिए उन्होंने प्रधानमंत्री से मांग की नई सेना भर्ती प्रक्रिया को निरस्त कर पुनः पुरानी भर्ती प्रक्रिया बहाल की जाय और लिखित परीक्षा भी नहीं होने पर अभ्यर्थियों का बवाल।

सेना में भर्ती के लिए लिखित परीक्षा नहीं होने पर डेढ़ साल पूर्व शारीरिक परीक्षा व मेडिकल जांच पास कर चुके अभ्यर्थियों का धैर्य बुधवार से लगातार टूट रहा सैकड़ों अभ्यर्थियों ने सेना भर्ती कार्यालय के पास से तक बवाल काटा ट्रायल जलाकर कई जगह पर जाम लगा दिया गया

काफी समझाने के बाद जब छात्र नहीं माने तो पुलिस ने लाठीचार्ज किया इसके बाद जाम समाप्त हुआ बताया गया कि सेना भर्ती के लिए लिखित परीक्षा नहीं होने पर अभ्यासयों ने कई बार उच्च अफसरों व जिलाधिकारियों को ज्ञापन दिया था।

इस पर कोई भी कार्यवाही नहीं हुई अंकित शुक्ला ने बताया हमे पुन: पुरानी भर्ती को बहाल करे और पहले रूके हुए एक्जाम फिर भर्ती प्रक्रिया को जल्द से जल्द

जारी करें अन्यथा देश का युवा राष्ट्रव्यापी आंदोलन करेगा मुख्य रूप से अमन यादव अनिकेत तिवारी कुलदीप संदीप सोनू मनोज जतिन श्रीवास्तव महेंद्र महेश भट्ट अन्य सैकेंडो छात्र मौजूद।