मसूरी में प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान के तहत 15 रोगियों को लिया गया गोद

मसूरी में प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान के तहत 15 रोगियों को लिया गया गोद

प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान के हिस्से के रूप में टीबी रोगियों को किसी व्यक्ति, किसी प्रतिनिधियों या संस्थानों द्वारा गोद लिया जा सकता है और गोद लिए रोगियों की देखभाल की जाएगी।

इस अभियान के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस पर 17 सितंबर से 2 अक्टूबर तक सेवा पखवाड़े के अंतर्गत भारतीय जनता पार्टी मसूरी मंडल द्वारा उप जिला चिकित्सालय में मसूरी में टीवी के रोगियों को मसूरी के समाज सेवीयों द्वारा 15 टीबी के मरीजों को गोद लिया गया है। 

निरूक्षय मित्र के रुप में मसूरी में निवासरत टीबी रोगियों के समर्थन में पोषण, अतिरिक्त निदान, अतिरिक्त पोषक तत्वों की खुराक प्रदान करने की सराहनीय पहल की है। निरूक्षय मित्रों द्वारा टीबी रोगियों को गोद लेकर उन्हें यह पोषण किट पूरे 1 वर्ष तक( प्रत्येक माह) प्रदान की जाएगी।

मसूरी भाजपा मंडल अध्यक्ष मोहन पेटवाल और सभासद गीता कुमाई ने कहा कि भारत को टीबी मुक्त बनाने के लिए सरकारी और गैर-सरकारी दोनों ही स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं.

सरकार कई योजनाओं के जरिए मरीजों को सुविधाएं दे रही है ताकि इस बीमारी से लड़ने में उनकी मदद हो सके। भारतीय जनता पार्टी द्वारा पूरे वर्ष भर मरीजों को पोषण किट उपलब्ध कराई जाएगी साथ ही उप जिला चिकित्सालय द्वारा मरीजों को मुफ्त दवा दी जा रही है और टीवी के मरीजों को गोद लिया जाएगा।

उन्होने कहा कि सरकार की नई योजना के मुताबिक अब टीबी मरीज़ को गोद ले सकेंगे और उनके लिए आपको पोषण आहार भेजने होंगे.

उन्होने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा 2030 तक टीबी को खत्म करने का लक्ष्य रखा गया है जिसको लेकर सभी लोग लगातार प्रयास किया जा रहा है। उन्होने कहा कि एक मरीज़ को गोद लेने पर हर महीने 1000 रुपये कीमत वाली न्यूट्रिएंट्स किट मरीज को भेजनी होगी.

इस किट में न्यूट्रीशन वैल्यू के हिसाब से महीने भर के पोषण आहार की जानकारी वेबसाइट पर मौजूद होगी कि क्या-क्या और कितना मात्रा में होना चाहिए. कभी-कभी उस मरीज से कॉल करके हाल चाल भी लेना इस कैंपेन के मकसद में शामिल है.

जांच अगर उस मरीज़ को करवानी है तो उसकी मदद की जा सकती है।उप जिला चिकित्सालय के कार्यवहाक सीएमएस डॉ प्रदीप राणा ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 2030 तक भारत को टीवी मुक्त करने के संकल्प के तहत टीवी के मरीजों के लिए मसूरी के उप जिला चिकित्सालय में कैंप आयोजित किया गया है जिसमें मसूरी के टीवी मरीजों को मुफ्त दवा और पोषण किट वितरित की गई है

मसूरी से निरूक्षय मित्रों की सूची इस प्रकार है

विनीता गुप्ता- चार मरीज़

गीता कुमांई - एक मरीज़

मोहन पेटवाल - एक मरीज़

कुशाल राणा- एक मरीज़

निधि बहुगुणा - एक मरीज़

सारिका अग्रवाल-एक मरीज़

दीपाली गुप्ता-एक मरीज़

मोनिका अग्रवाल- एक मरीज़

रचना शर्मा- एक मरीज़

राजेन्द्र रावत - एक मरीज़

रजत कपूर- एक मरीज़

अजय भार्गव- एक मरीज़

रिपोर्टर : सुनील सोनकर