Weight Loss : चावल खाने से वजन बढ़ रहा है तो इसे छोड़कर खाएं ये 5 चींजें, वजन कम होने के साथ मिलेगा भरपूर पोषण

अनपॉलिश्ड चावलों में मिनरल्स होते हैं लेकिन जब इन चावलों को पॉलिश किया जाता है तो इनसे ये सभी पोषक तत्व निकल जाते हैं

Weight Loss : चावल खाने से वजन बढ़ रहा है तो इसे छोड़कर खाएं ये 5 चींजें, वजन कम होने के साथ मिलेगा भरपूर पोषण
चावल खाने से वजन बढ़ रहा है तो इसे छोड़कर खाएं ये 5 चींजें, वजन कम होने के साथ मिलेगा भरपूर पोषण
Weight Loss : चावल खाने से वजन बढ़ रहा है तो इसे छोड़कर खाएं ये 5 चींजें, वजन कम होने के साथ मिलेगा भरपूर पोषण
Weight Loss : चावल खाने से वजन बढ़ रहा है तो इसे छोड़कर खाएं ये 5 चींजें, वजन कम होने के साथ मिलेगा भरपूर पोषण
Weight Loss : चावल खाने से वजन बढ़ रहा है तो इसे छोड़कर खाएं ये 5 चींजें, वजन कम होने के साथ मिलेगा भरपूर पोषण
Weight Loss : चावल खाने से वजन बढ़ रहा है तो इसे छोड़कर खाएं ये 5 चींजें, वजन कम होने के साथ मिलेगा भरपूर पोषण
Weight Loss : चावल खाने से वजन बढ़ रहा है तो इसे छोड़कर खाएं ये 5 चींजें, वजन कम होने के साथ मिलेगा भरपूर पोषण

चावल का सेवन तो हम सभी करते हैं। चावल भारतीय व्यंजनों के मुख्य व्यंजनों में से एक है। यहां तक कि कुछ राज्य तो भोजन के लिए मूल रूप से चावल पर ही निर्भर हैं। लेकिन जब बात वजन कम करने की आती है तो विभिन्न स्वास्थ्य विशेषज्ञ चावल से बचने की सलाह देते हैं।

विशेषज्ञों की मानें तो सफेद चावल कैलोरी में उच्च होते हैं। सफेद चावल साधारण कार्ब्स में उच्च होते हैं, जिससे यह वजन कम करने की कोशिश करने वाले या डायबिटीज के रोगियों के लिए यह कम स्वस्थ विकल्प बन जाता है।

अनपॉलिश्ड चावलों में मिनरल्स होते हैं लेकिन जब इन चावलों को पॉलिश किया जाता है तो इनसे ये सभी पोषक तत्व निकल जाते हैं जिससे यह केवल साधारण कार्बोहाइड्रेट का स्रोत बन जाता है। अब सवाल यह उठता है कि अगर कोई व्यक्ति वजन कम कर रहा है तो उसके पास क्या विकल्प है?

खैर, स्वास्थ्य विशेषज्ञ ऐसे में सफेद चावलों की कम खपत और इसे स्वस्थ विकल्पों के साथ बदलने की सलाह देते हैं। इस लेख में हम आपको विशेषज्ञों द्वारा सुझाए चावल के 5 स्वस्थ विकल्पों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें आप अपनी वेटलॉस डाइट में शामिल कर सकते हैं।

1. क्विनोआ (Quinoa)

क्विनोआ एक बीज है जो हजारों सालों से दक्षिण अमेरिका के मुख्य भोजन का हिस्सा रहा है। यह हाल ही में अपने पोषक तत्वों और स्वास्थ्य लाभों के कारण फिटनेस प्रेमियों के बीच लोकप्रिय हो गया है। ये छोटे बीज ग्लूटेन फ्री होते हैं और इनमें चावल की तुलना में अधिक प्रोटीन होता है।

वास्तव में, यह कुछ पौधों पर आधारित खाद्य पदार्थों में से एक है जिसमें प्रोटीन बनाने के लिए आवश्यक सभी नौ अमीनो एसिड मौजूद होते हैं। यह कॉपर और मैग्नीशियम से भी भरपूर होता है।

2. बाजरा (Millet)

शक्तिशाली बाजरा स्वस्थ और ग्लूटेन फ्री होता है साथ ही यह प्रोटीन, फाइबर और एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होता है। सभी आवश्यक पोषक तत्वों से भरपूर होने के कारण, यह चावल और गेहूं दोनों के लिए एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है।

सबसे अच्छी बात यह है कि बाजरा विभिन्न किस्मों में उपलब्ध है, जिसमें रागी, ज्वार, जौ, बाजरा आदि शामिल हैं। इनमें से हर एक समान रूप से पौष्टिक, पकाने में आसान और बहुमुखी है। बाजरा भी आयरन का एक बड़ा स्रोत है, जो हीमोग्लोबिन बनाने के लिए आवश्यक पोषक तत्व है।

3. दलिया (Dalia)

बलगर व्हीट (Bulgar wheat) या दलिया, मध्य पूर्वी देशों में एक लोकप्रिय मुख्य व्यंजन है। दलिया टूटा हुआ गेहूं है जिसमें भूसी होती है, इसे ड्यूरम गेहूं से तैयार किया जाता है। यह उच्च फाइबर वाला अनाज पेट भरने वाला है और आपके दैनिक कैलोरी सेवन को कम कर सकता है।

दलिया खाने से आंत के स्वस्थ बैक्टीरिया को बढ़ावा देने और कब्ज को रोकने में भी मदद मिल सकती है। यह साबुत अनाज फोलेट, विटामिन बी 6, नियासिन, कॉपर, मैंगनीज, मैग्नीशियम और आयरन से भरपूर होता है।

4. फूलगोभी का पुलाव (Cauliflower Rice)

सर्दियों के मौसम में फूलगोभी सबसे पसंदीदा सब्जियों में से एक है। अब आप फूलगोभी को चावल में शामिल करके भी इसे अपने आहार में शामिल कर सकते हैं।

यह एक सुपर पौष्टिक सब्जी है और फोलेट, विटामिन के और फाइबर से भरपूर है और इसके कुछ अद्भुत स्वास्थ्य लाभ हैं। इसके अलावा, फूलगोभी का पुलाव तैयार करना बहुत ही आसान है साथ ही यह कैलोरी में बेहद कम है।

5. कटी हुई पत्ता गोभी (Shredded cabbage)

फूलगोभी के परिवार से संबंधित, कटी हुई पत्ता गोभी चावल का एक और बेहतरीन विकल्प है। यह कैलोरी और कार्ब्स में कम है साथ ही इसमें एक हल्का स्वाद होता है। इसे किसी डिश में अतिरिक्त स्वाद जोड़ने और उसे अधिक भरने के लिए जोड़ा जा सकता है। ये पत्तेदार सब्जी विटामिन सी और के, फोलेट, पोटेशियम और मैग्नीशियम का भी एक बेहतरीन स्रोत है।